Credit Card EMI में छुपा हुआ 18% ब्याज! आपको मिलेगा सबसे अच्छा गणित यहां

Credit Card

Credit Card EMI: No Cost EMI पर भी चुकाना होता है 18% ब्याज, समझें पूरा गणित

No Cost EMI का भ्रांति

Credit Card EMI, जिसे ‘नो कॉस्ट ईएमआई’ कहा जाता है, यह एक ऐसा ऑफर है जो लोगों को लगता है कि इसमें कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं है। लेकिन यह भ्रम है। ‘नो कॉस्ट ईएमआई’ पर भी ब्याज का बोझ होता है। इस ब्याज के अलावा, एक्स्ट्रा कॉस्ट भी हो सकती है, जिसका आपको सही गणना करना महत्वपूर्ण है।

ईएमआई और ब्याज का संबंध

Credit Card की EMI में बताए गए ब्याज के अलावा, 18% एक्स्ट्रा कॉस्ट भी हो सकती है। इसे समझने के लिए हमें दो तत्वों को ध्यान में रखना होगा – ईएमआई और जीएसटी। अगर आपको यह नहीं पता कि इस एक्स्ट्रा चार्ज का कारण क्या है, तो आपको यह भरपूर जानकारी होनी चाहिए।

क्रेडिट कार्ड ब्याज पर लगता है GST

Credit Card के सामान्य EMI पर लगने वाले जीएसटी का मामला है। इस पर आपको गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) देना होता है, जो बहुत बार लोगों को अनदेखा कर जाता है। क्रेडिट कार्ड के ब्याज पर भी इसी तरह का जीएसटी लगता है, जो आपको सामान की बकाया रकम के ऊपर एक अतिरिक्त चार्ज देने के लिए मजबूर करता है।

ईएमआई ‘नो कॉस्ट’ पर भी GST कैसे

No Cost EMI की मिथ्या समझ को समझने के लिए हमें इसके कामियाबीन तंत्र को समझना होगा। इसमें, बैंक ब्याज लेता है, लेकिन बिक्रीकर्ता आपको एक इंस्टैंट डिस्काउंट के रूप में ब्याज के बराबर की रकम ऑफर करता है। इससे आपको लगता है कि ईएमआई पर ब्याज नहीं है, लेकिन डिस्काउंट में ब्याज शामिल होता है, जिस पर जीएसटी नहीं लगता है। इससे बचने के लिए सही गणना और विवेचना करना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

CIBIL स्कोर: 750 से अधिक का सिबिल स्कोर क्यों जरूरी है?

CIBIL स्कोर का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है जब बात क्रेडिट कार्ड EMI की आती है। 750 से अधिक का सिबिल स्कोर रखने वाले लोगों को नकारात्मक रिपोर्टिंग से बचाने का अच्छा मौका मिलता है। एक अच्छे सिबिल स्कोर के साथ, आपको बेहतर ब्याज दरें और लोन की मुद्रा मिल सकती है।

सस्ता ट्रैक्टर लोन: 25 लाख तक 10% से कम ब्याज

क्रेडिट कार्ड EMI की तुलना में, सस्ता ट्रैक्टर लोन प्राप्त करने के लिए भी आपको ध्यान में रखने वाली कुछ चीजें हैं। बैंकों में से कुछ ऐसे हैं जो 25 लाख तक 10% से कम ब्याज दर पर ट्रैक्टर लोन प्रदान करते हैं। इसके लिए आपको अच्छा सिबिल स्कोर रखने के साथ-साथ अन्य आवश्यक दस्तावेज भी तैयार रखना होगा।

नो कॉस्ट EMI और उसका विवेचन

नो-कॉस्ट EMI बातचीत का एक हिस्सा बन चुका है, लेकिन इसमें छुपे ब्याज और अतिरिक्त चार्जों की गणना करना हमें अपने वित्त में स्पष्टीकरण लाने में मदद कर सकता है। अच्छी तरह से गणना करके ही इस सुविधा का उपयोग करना उचित है।

निष्कर्ष

क्रेडिट कार्ड EMI पर ‘नो कॉस्ट’ कहने के बावजूद, इसमें ब्याज और एक्स्ट्रा कॉस्ट हो सकती है। सही गणना और सावधानीपूर्वक इसका उपयोग करना महत्वपूर्ण है। सिबिल स्कोर की महत्वपूर्णता, सस्ता ट्रैक्टर लोन, और चुकाने वाले ब्याज के सभी पहलुओं को समझकर ही सही निर्णय लेना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *